00 ये खामोशियाँ अब बहुत हुई माही | Bazinga

पिता के बुढ़ापे का लाठी , 4 बहनों के इकलौते भाई सुशांत के चले जाने से पूरी दुनिया हताश थी, जैसे हर किसी का उससे कुछ छिन गया हो लेकिन हैरानी की बात तो यह है कि फ़िल्मी दुनिया के माही के चले जाने पर क्रिकेट का माही चुप क्यों है ? वो तो आपकी परछाई था। उसने अपनी लाजवाब एक्टिंग से आपको परदे पर जीवंत कर दिया और जो लोग क्रिकेट की ए बी सी भी नहीं जानते उन लोगों को भी आपकी पहचान करवा दी।

आपको क्रिकेट खेलते तो लाखों लोगों ने देखा है लेकिन उसने तो आपके यहाँ तक पहुंचने के सफर को, आपकी स्ट्रगल को लाखों लोगों के दिल -दिमाग तक पहुंचा दिया। इसमें कोई शक नहीं कि आप भी इस गम के दरिया में डूबे हुए होंगे , पर बेजूबां क्यों हो? कब बोलोगे? आपका इस तरह चुप रहना नागवार गुजर रहा है। तुम्हारी संवेदनाओं को सुनना चाहते हैं। हम उसी माही को देखना चाहते हैं, जो आईपीएल मैच में अंपायर के फैसले के खिलाफ गुस्से का इजहार करने मैदान में उतर पड़ा था। वह माही कहां गया? क्या नैशनल ड्यूटी वाले माही को सामाजिक ड्यूटी निभाना नहीं आता। अगर आप इंसान हैं तो थोड़ी सी इंसानियत भी दिखाइए।


यह वह समय है, जब उनके विरोधियों ने भी ‘U will be missed’ के मेसेज भेजे हैं। घड़ियाली आंसू बहा रहे हैं और खुद को गमगीन दिखा रहे हैं। क्या आप इतना भी नहीं कर सकते हो ? आप उस वक्त भी खामोश रहे थे, जब युवराज के पिता योगराज ने बेटे का करियर खराब करने की उलाहना दी थी। तब भी खामोश थे जब हमारे चहेते लक्ष्मण ने संन्यास लिया था। तब भी कुछ नहीं बोले थे, जब क्रिकेट के ‘सुल्तान’ सहवाग ने शिकायतों के दौर के बाद बल्ला टांगने का फैसला किया था। टेस्ट की कप्तानी छोड़ी, संन्यास लिया, वनडे और टी-20 की कप्तानी भी छोड़ी, वर्ल्ड कप-2019 में रन आउट हुए, मैच हारे, खराब प्रदर्शन पर खूब आलोचना हुई पर किसी भी समय नहीं बोले।

यही नहीं, गाहे-बगाहे तमाम खिलाड़ी दबी जुबां में आपके बारे में अब भी शिकायत करते हैं। पहले लगता था कि आप विवादों से बचने के लिए नहीं बोलते हो, पर अब लगने लगा है आप बोलना ही नहीं चाहते। इस कोरोना काल में लोग जान हथेली पर लेकर उसे आखिरी बार अलविदा कहने के लिए इतने लोग जुटे की सड़क जाम हो गयी , इन सबके बावजूद सबने तुम्हारी तरफ देखा फिर भी आप चुप रहे आपकी चुप्पी भी बड़ी लंबी है… ढेरों सवाल हैं, जवाब मौन है।

 178 total views,  2 views today

Leave a comment