00 ड्रैगन का सर कुचलने का जबरदस्त मौका | Bazinga

दुनिया के तमाम देश कोरोना वायरस के लिए चीन को ही जिम्मेदार मान रहे हैं। चीन की संदिग्ध भूमिका के कारण अधिकतर इंटरनेशनल कंपनियां चीन छोड़ने की तैयारी कर रही हैं। इस टाइम में भारत को इन कंपनियों को लुभाने में जुट जाना चाहिए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी देश को आत्मनिर्भर बनाने के अभियान को आगे बढ़ाने में लगे हैं। देखा जाये तो आज का टाइम देश में इंडस्ट्रीस के लिए अनुकूल माहौल तैयार करने का है। कोरोना संकट को एक अवसर में बदलने की बातें तो बहुत हो रही हैं , लेकिन इसके एफर्ट्स ग्राउंड लेवल पर नज़र नहीं आ रहे हैं। इन कंपनियों का रुख देखते हुए जहाँ हमें अनुकूल माहौल तैयार करने का काम युद्धस्तर पर करना चाहिए था , वहीं हमारी नौकरशाही बिलकुल सुस्त रही हैं।

केंद्र और राज्य सरकारों को भी इसकी जाँच करनी चाहिए कि उनकी ओर से आपदा को अवसर में बदलने के बारे में जो कुछ कहा जा रहा है, नौकरशाही उस पर अमल कर भी रही है या नहीं? बिना कुछ ठोस काम किये सिर्फ पॉलिसीस अनाउंस करने से इंटरनेशनल कंपनियां चीन से निकलकर भारत की ओर नहीं आएंगी। अगर हमने टाइम रहते इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार नहीं किया तो यह अवसर हमारे हाथ से निकल जायेगा।

 167 total views,  2 views today

Leave a comment